रब्बा मेहर करी / Rabba Mehar Kari Lyrics in Hindi | Darshan Raval

[ad_1]

Rabba Mehar Kari Lyrics in Hindi
Advertisement

दुआवां मंगदा
मैं तेरे लई दुआवां मंगदा
मैं जिथे जिथे जावां हीरिये
संग तेरा परछावां मंगदा

मैं लड़ दा रवां
ज़माने नाल लड़ दा रवां
सितारे मोहब्बतां दे
तेरी चुन्नी उत्ते जड़ दा रवां

हो तेरे लईआं जित्ती बाज़ी
हार जावां तू जे राज़ी
तेरे बाझों मेरा मोल ना

हो रब्बा मेहर करी तू मेहर करी
मेरा हो जाए वो ना देर करीं
इस जनम मिल जाए वो
उसे अगले जनम मेरा फेर करी

रब्बा मेहर करी तू मेहर करीं
मेरा हो जाए वो ना देर करी
इस जनम मिल जाए वो
उसे अगले जनम मेरा फेर करी

तू ही सहारा मेरा, किनारा मेरा
तू ही है चन्न मेरा, सितारा मेरा
तू ही है यारा मेरा, गुज़ारा मेरा
तू ही है मेरा सफर

सहारा मेरा, किनारा मेरा
चन्न मेरा, सितारा मेरा
यारा मेरा, गुज़ारा मेरा
तू ही है मेरा सफर

(संगीत)

हवाओं की आवाज़ जैसा तू
रूहानी किसी साज़ जैसा तू
जो सुन के खुश हो जाए ख़ुदा
उसी अलफ़ाज़ जैसा तू

इश्क़ मुझे रास आया है
जबसे तू पास है
तेरी खुशबू से हर तरफ
नया एहसास आया है

शायर तो हूँ मैं वैसे
तारीफ़ करूँ मैं कैसे
अलफ़ाज़ मेरे कोल ना

हो रब्बा मेहर करी तू मेहर करी
मेरा हो जाए वो ना देर करी
इस जनम मिल जाए वो
उसे अगले जनम मेरा फेर करी

मेहर करी तू मेहर करी
मेरा हो जाए वो ना देर करी
इस जनम मिल जाए वो
उसे अगले जनम मेरा फेर करी

हो रब्बा
इतना बरसा दे मुझपे
अपना मेहर-ऐ-करम
हो रब्बा मेहर करी

 

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here