काबिल-ए-तारीफ / Kaabil-E-Tareef Lyrics in Hindi | Gurnazar

[ad_1]

Kaabil-E-Tareef Lyrics in Hindi

जिन्नि वारी तैनू वेखा बस वेखि जाण दा
दिल करदा ऐ
बस तेरे बारे सोच सोच के ही सोणेया

Advertisement

मेरा दिन लंग दा ऐ

I Know अपने चेहरे पे ही
सुनना अपनी ही तारीफे
लगता है थोड़ा सा जी

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज
तेरी हर चीज है काबिल-ए-तारीफ
काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज
तेरी हर चीज है काबिल-ए-तारीफ

(संगीत)

प्यार में है हम हमारा क्या कसूर
तभी तो मिलने आ जाते है आपसे हुज़ूर
बच्चो की तरह दिल जिद करता है
कैसे करें इग्नोर करें मजबूर

अब खुद ही बता दो इलाज हमारा
हम तो बन चुके है आपने मरीज

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज
तेरी हर चीज है काबिल-ए-तारीफ
काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज
तेरी हर चीज है काबिल-ए-तारीफ

(संगीत)

ओ हमारे लिए तो जिए भी बड़ी बात है
मौका मिला है और हम तुम्हारे साथ है
अरे हमसे अच्छे लाखो मिल सकते है आपको
आपको ठुकराए हमारी क्या औकात है

इतने प्यार से जो तुमने हमको प्यार कर लिया
नजर जी बन गए है आपके मुरीद

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज
तेरी हर चीज है काबिल-ए-तारीफ
काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज
तेरी हर चीज है काबिल-ए-तारीफ

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here