होली के दिन दिल खिल जाते हैं Holi Ke Din Dil Khil Jaate Hai Lyrics

[ad_1]

Holi Ke Din Dil Khil Jaate Hai Lyrics in Hindi
Advertisement

चलो सहेली, चलो सहेली
चलो रे साथी, चलो रे साथी
ओ पकड़ो-पकड़ो रे इसे ना छोड़ो
अरे बैंया ना मोड़ो
ज़रा ठहर जा भाभी,अरे जा रे सराबी
क्या ओ राजा, गली में आजा
होली-होली, भांग की गोली
ओ नखरे वाली, दूँगी मैं गाली
ओ रामू की साली
होली रे होली

(संगीत)

होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं
होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं

गिले शिक़वे भूल के दोस्तों
दुश्मन भी गले मिल जाते हैं

होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं
होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं

(संगीत)

गोरी तेरे रंग जैसा
थोड़ा सा मैं रंग बना लूँ
आ तेरे गुलाबी गालों से
थोड़ा सा गुलाल चुरा लूँ

जा रे जा दीवाने तू
होली के बहाने तू
जा रे जा दीवाने तू
होली के बहाने तू
छेड़ ना मुझे बेसरम

पूछ ले ज़माने से
ऐसे ही बहाने से
लिए और दिए दिल जाते हैं
होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं

(संगीत)

यही तेरी मरज़ी है तो
अच्छा चल तू ख़ुश हो ले
पास आ के छूना ना मुझे
चाहे मुझे दूर से भिगो ले

हीरे की कनी है तू
मट्टी की बनी है तू
हीरे की कनी है तू
मट्टी की बनी है तू
छूने से टूट जाएगी

काँटों के छूने से
फूलों से नाज़ुक-नाज़ुक
बदन छिल जाते हैं
होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं

गिले शिक़वे भूल के दोस्तों
दुश्मन भी गले मिल जाते हैं

होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं
होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं
होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं
होली के दिन दिल खिल जाते हैं
रंगों में रंग मिल जाते हैं

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here