जय जय शिवशंकर Jai Jai Shivshankar Lyrics in Hindi | War

[ad_1]

Jai Jai Shivshankar Lyrics in Hindi
Advertisement

 तो आज यार घर पे ये बोल दो
आएँगे देर से फ़िकरे सब छोड़ दो
आज हक़ से अपने हिसाब में
हम जो करने चले ग़लती वो जोड़ लो

तो आज यार कुछ लम्हो के लिए
बिगड़ी राहों पे तुम पैरो को मोड़ दो
आज हक़ से दुनिया को भूल के
जीतने हैं क़ायदे वो सारे तोड़ दो

हो खुल्ले ग्राउंड में आके
ऊंचा साउंड बजाके
रेड वाला कलर लगाके
नाचेंगे हीरो बन कर

हो जय जय शिवशंकर
आज मूड है भयंकर
रंग उड़ने दो
रंग उड़ने दो

हम आए बन ठन कर
की मूड है भयंकर
रंग उड़ने दो
रंग उड़ने दो

हो जय जय शिव शंकर
आज मूड है भयंकर
रंग उड़ने दो
रंग उड़ने दो

(संगीत)

धुन के गीले गीले सुर सुन के
बारी बारी यहाँ जम के
आजा देसी कमर पे ठुमके उछाल दे
हो सारे शरमाना आज छड्ड के
ज़रा ज़रा नश कर के
जितनी भी है शरम दिल से निकल दे

अपनी ही शर्तों पे नचणा
आज रंगों से कोई नही बचणा
सुबह तक अब नही थकणा रे हो

हो दो दो राउंड लगा के
सौ सौर पाउंड उड़ा के
हो विलयती भांग चढ़ा के
नाचंगे हीरो बन कर

हो जाई जाई शिव शंकर
आज मूड है भयंकर
रंग उड़ने दो
रंग उड़ने दो

हम आए बन ठन कर
कि मूड है भयंकर
रंग उड़ने दो
रंग उड़ने दो

हो जय जय शिवशंकर
आज मूड है भयंकर
रंग उड़ने दो
रंग उड़ने दो

 

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here